Top Newsविदेश

इराक़ में समलैंगिक संबंध बनाना अपराध होगा, अमेरिका समेत यूरोपीय देशों ने कहा ‘इससे इन्वेस्टमेंट प्रभावित होगा

नई दिल्ली। समलैंगिक संबंध दुनियाभर में अब एक वायरस की तरह से फैलते हुए दिख रहे हैं। एक तरफ जहां समलैंगिक सम्बन्धों से संकृति खत्म होती दिख रही है तो दूसरी ओर इससे वंश वृद्धि पर भी असर पड़ेगा, जबकि कई मामलों में ये विभिन्न प्रकार की बीमारियों से भी दिखाता है। अब इसे देखते हुए ईराक की संसद ने भी इसे एक अपराध की श्रेणी में रख दिया है।

क्षेत्रीय मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार ईराक में अब समलैंगिक संबंध बनाने वालों को 10-15 वर्ष की जेल हो सकती है। इस कानून में थर्ड जेंडर को भी रखा गया है जिससे उन्हें 3 वर्ष तक की सज़ा हो सकती है। वहीं लिंग परिवर्तन करने वाले डॉक्टर और उनसे जुड़े लोगों को भी जेल में डाला जाएगा। ईराक में इस कानून के पास होते ही अमेरिका ने इसका विरोध किया है, अमेरिका का कहना है कि ये ह्यूमन राइट के खिलाफ है। इससे वहाँ होने वाले क्षेत्रीय निवेश पर भी असर पड़ सकता है। इसलिए ईराक को ऐसे कानून नहीं बनाने चाहिए।

इराक के सांसद आमिर-अल-मामूरी ने क्षेत्रीय न्यूज़ एजेंसी शफाक से बातचीत के दौरान कहा कि इस्लामिक मूल्यों के खिलाफ होने वाले हर एक कदम का हम विरोध करते हैं। इसलिए हमने इसे कानून बनाकर पास किया है। इसे पहले ही लाया जाना था लेकिन इराक के प्रधानमंत्री मोहम्मद शिया अल-सुदानी की अमेरिकी यात्रा की वजह से इसे टाल दिया गया था।

America against Iraq gay law

इराक संसद के द्वारा बनाए गए नए कानून का अमेरिका के साथ यूरोपीय यूनियन ने भी जमकर विरोध किया है। इस मामले पर आंतरिक आज़ादी के साथ ह्यूमन राइट्स का भी हवाला दिया जा रहा है। वहीं अमेरिकी विदेश मंत्रालय की ओर से जारी एक बयान में  कहा गया कि इससे इराक की अर्थव्यवस्था पर असर होगा क्योंकि विदेशी निवेश में कमी आ सकती है।

Back to top button