Top Newsउत्तर प्रदेश

लोकसभा चुनाव 2024 : सपा के द्वारा जारी 11 सीटों से कांग्रेस असंतुष्ट, बोली- गठबंधन धर्म नहीं निभाया

16 उम्मीदवारों को उतारकर उन्होंने अच्छा प्रदर्शन नहीं किया है। भाजपा को पराजित करने के लिए सभी दलों को संगठित होना चाहिए फिर मामला चाहे सीटों के बंटवारे का हो या किसी रणनीति के संबंध में हो।

Lok Sabha Elections 2024: Congress dissatisfied with 11 seats released by SP, said – alliance did not follow dharma

लखनऊ (उत्तर प्रदेश). सपा पार्टी ने लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस को 11 सीटों को घोषित कर चुकी है, जिसकी वजह से कांग्रेस संतुष्ट नहीं है। यूपी कांग्रेस पार्टी के प्रभारी ने कहा कि सपा ने गठबंधन धर्म को नहीं निभा पाया।

सपा के द्वारा जारी 11 सीटों से कांग्रेस असंतुष्ट

कांग्रेस पार्टी के उत्तर प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे नियम बताया कि सपा ने यूपी में लोकसभा उम्मीदवार उतार कर गठबंधन धर्म पालन नहीं कर पाई है। फिर भी हम सकारात्मक विचारों के साथ आगे बढ़ने के लिए तैयार हैं। मुझे यह विश्वास है कि यह चीज ठीक हो जाएगी। 16 उम्मीदवारों को उतारकर उन्होंने अच्छा प्रदर्शन नहीं किया है। भाजपा को पराजित करने के लिए सभी दलों को संगठित होना चाहिए फिर मामला चाहे सीटों के बंटवारे का हो या किसी रणनीति के संबंध में हो। अविनाश कुमार पांडे ने यह बताया कि यदि कोई पार्टी राजनीति साझा करें तो हमारी भी एक पहचान होनी चाहिए। कोई भी एक तरफा फैसला नहीं किया जाता है। गठबंधन में सभी लोग एक साथ रहते हैं और सर्वसम्मति से किसी भी बात पर निर्णय लेते हैं। आज तक भी हमारे मन में सभा के प्रति पूरा सम्मान और सकारात्मक विचार है।

चुनाव शीर्ष नेतृत्व तय करेगा

कांग्रेस के प्रदेश स्तरीय नेताओं का यह कहना है कि तेलंगाना के मुख्यमंत्री की ओर से सोनिया गांधी के वहां से रायबरेली चुनाव में कौन लड़ेगा, इस बात का निर्णय शीर्ष नेतृत्व ही तय करेगा। प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे ने बताया कि प्रदेश के नेता चाहते हैं कि गांधी के परिवार के हर सदस्य को उत्तर प्रदेश में चुनाव मैदान में उतरा जाए। हम सभी लोग इसकी तैयारी भी कर रहे हैं, लेकिन यह शीर्ष नेतृत्व को तय करना है कि किसको-कहां से चुनाव लड़ना है।

सपा को मध्य प्रदेश से मिली सीख

इंडिया गठबंधन के सपा और कांग्रेस के बीच अभी सीटों के बंटवारे के निर्णय को अंतिम रूप नहीं दिया गया है, लेकिन सपा ने पहले ही प्रत्याशी घोषित करने शुरू कर दिए हैं। कांग्रेस के नेता समर्थित नहीं है। सपा की सूत्रों ने यह बताया कि मध्यप्रदेश जो कुछ हुआ उसके सबक को सीखकर उनकी पार्टी आगे बढ़ रही है। सपा सूत्रोंनुसार, मुकुल वासनिक की अगुवाई में बनी कांग्रेस को जो भी दी जानी है उन पर वही नेता सवाल उठा रहे हैं, जिनको न तो कमेटी में शामिल किया गया है और ना ही उनको कमेटी के बारे में जानकारी दी गई। मध्य प्रदेश में चुनाव के दौरान सपा के साथ कैसा व्यवहार किया गया था, वह सबके सामने है। कई बार की राउंड की बातचीत की गई फिर भी गठबंधन के अनुसार सपा को कोई सीट नहीं दी गई थी।

Lok Sabha Elections 2024: Congress dissatisfied with 11 seats released by SP, said – alliance did not follow dharma
Back to top button