Top Newsदेश

लोकसभा चुनाव : आंध्र प्रदेश पूर्व CM चंद्रबाबू ने गृहमंत्री अमित शाह से की मुलाकात,BJP और TDP मिलकर लड़ेंगे चुनाव

कुछ दिनों के बाद दोनों दलों के संबंधों में रुकावट आ गई। अब कुछ दिनों के बाद फिर से दोनों दल पास आते हुए दिख रहे हैं।

नई दिल्ली (भारत). लोकसभा चुनाव के नजदीक आने के चलते राजनीतिक तैयारियां जोरों-शोरों पर होने लगी हैं। दो पुराने सहयोगी भी राजनीतिक दल पर एक बार भी वार्ता के लिए सक्रिय दिख रहे हैं। तांत्रिक गठबंधन के कुनबे में सहयोगी दल रही तेलुगू देशम पार्टी एक बार फिर भाजपा के करीब आ सकती है। टीडीपी सुप्रीमो चंद्रबाबू नायडू और भाजपा के चाणक्य कहे जाने वाले अमित शाह की मुलाकात हुई। इस मुलाकात के बाद दोनों की आगामी चुनाव से पहले के किलेबंदी के रूप में देखा जा रहा है।

चंद्रबाबू ने गृहमंत्री अमित शाह से की मुलाकात

आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू बुधवार के दिन दिल्ली में टीडीपी सांसद जयदेव गल्ला के आवास पर गए थे, उसके बाद उन्होंने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की। टीडीपी और भाजपा के बीच दूरियां कम हो रही है, ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है। सूत्रों के अनुसार भाजपा के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन राजग में लौटते हैं तो वह जनता दल यूनाइटेड के अध्यक्ष और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बाद ऐसा करने वाले दूसरे प्रमुख क्षेत्रीय नेता बन जाएंगे।

बीजेपी चंद्रबाबू नायडू से हाथ मिलाने के लिए हो गई तैयार

सूत्रों के अनुसार, टीडीपी अध्यक्ष और आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री के साथ भाजपा हाथ मिलाने के लिए तैयार हो गई है। सत्तारूढ़ दल के एक वर्ग का ऐसा मानना है कि नायडू के साथ गठबंधन से राजग को वाईएसआर कांग्रेस से शासित राज्य में अच्छा प्रदर्शन करने में मदद मिलेगी। भाजपा के एक वरिष्ठ नेता नहीं है बताया कि उनकी पार्टी गठबंधन के लिए तैयार हो गई है लेकिन यह सब इस पर निर्भर करेगा कि राज्य के मुख्य विपक्षी पार्टी टीडीपी लोकसभा चुनाव के लिए कितनी सीटें उनको देने पर सहमत होती है।

बीजेपी 6 प्रत्याशियों को आंध्र प्रदेश में उतार सकती

बीजेपी 2024 के लोकसभा चुनाव में अपने 6 प्रत्याशियों को आंध्र प्रदेश में उतार सकती है। 2014 को तेलंगाना के गठन के बाद 70 लोकसभा सीटें तेलंगाना के हिस्से में आ गई थी। अब आंध्र प्रदेश में 25 लोकसभा सीटें हो गई हैं। टीडीपी 2018 में एनडीए से बाहर हो गई थी, जिससे 2019 के लोकसभा चुनाव में तड़प को बड़ी हार झालनी पड़ी थी। वह केवल तीन लोकसभा सीटों को ही जीत पाई थी। आंध्र प्रदेश की राजनीति में अभिनेता पवन कल्याण के नेतृत्व वाले जनसेना पार्टी पहले ही तड़प के साथ हाथ मिलाने का फैसला बना चुकी है पवन कल्याण भाजपा के ही सहयोगी थे।

बीजेपी 400 से अधिक सीटें जीतेगी

टीडीपी के सांसद जयदेव गला के आवास पर मिलने के लिए उनके आवास पर पहुंचे। भाजपा के किसी नेता ने इस बड़े राजनीतिक घटनाक्रम पर कोई भी बयान नहीं दिया है। प्रधानमंत्री ने लोकसभा भाषण के दौरान यह बताया कि लोकसभा चुनाव 2024 में हम कम से कम 370 जीते जरूर जीतेंगे। उन्होंने यह भी बताया कि एनडीए के सभी प्रत्याशी मिलकर 400 से अधिक सीट की जीत हासिल करेंगे। बीजेपी और टीडीपी ने लगभग 10 साल पहले गठबंधन में चुनाव लड़ा था। इतने सालों के बाद दोनों सहयोगी बनकर चुनाव लड़ रहे हैं। तेलंगाना आंध्र प्रदेश से औपचारिक रूप से अलग नहीं हुआ था। आंध्र प्रदेश की 42 लोकसभा सीटों में से तीन सीटों पर चुनाव लड़ा गया था, जिसमें भाजपा सभी पर जीत हासिल की थी। लेकिन कुछ दिनों के बाद दोनों दलों के संबंधों में रुकावट आ गई। अब कुछ दिनों के बाद फिर से दोनों दल पास आते हुए दिख रहे हैं।

Back to top button