Top Newsखेल

U19 WC Final : भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच आज होगा 6वां विश्वकप, संभावित प्लेइंग 11

भारत के युवा क्रिकेटर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ फाइनल में अपनी पूरी शक्ति लगाकर खिताब को जीतने के लिए अपनी किस्मत को दांव पर लगाएंगे।

खेल : रविवार के दिन भारत के युवा क्रिकेटर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ फाइनल वर्ल्ड कप खेलेंगे। यह 6वां रिकॉर्ड होगा जो आईसीसी अंडर-19 वनडे किताब को जीतने के लिए खेला जाएगा। इस खेल में भारतीय अपनी दमदार शक्ति का प्रदर्शन करेंगे। भारत के युवा क्रिकेटर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ फाइनल में अपनी पूरी शक्ति लगाकर खिताब को जीतने के लिए अपनी किस्मत को दांव पर लगाएंगे।

भारतीय टीम इस टूर्नामेंट में है मजबूत

सहारन के अगुवाई वाली मौजूदा टीम में भारतीय टीम इतनी शानदार नहीं रह पाई थी क्योंकि कुछ महीने पहले वह अंदर-19 फाइनल में हार गई थी। लेकिन यहां पर टीम अपने परफॉर्म में नजर आ रही है। टूर्नामेंट 389 बनाने वाले सहारनपुर का प्रदर्शन प्रत्येक मैच में अब बेहतर बन गया है उसने बड़े अंतर से जीत प्राप्त की है। दक्षिण अफ्रीका का ही एक ऐसा सेमीफाइनल था, जिसमें एक विकेट से हरा दिया। भारतीय टीम इस होने वाले टूर्नामेंट के मैचो में अभी तक एक बार भी नहीं हारी है।

मुशीन खान से बड़ी पारी की उम्मीद

सरफराज के भाई मशीन से इस मैच में अच्छी उम्मीद रहेगी। यह अपने छोटे भाई मुशीन खान कप्तान उदय के बाद सबसे ज्यादा बनाने वाले रन के खिलाड़ी हैं। रविवार के दिन इनका प्रदर्शन सर्वश्रेष्ठ प्रश्न उत्तर के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होगा। भारत की टीम ने अंदर-19 2012 और 2018 के फाइनल में ऑस्ट्रेलिया को हरा दिया था। इस चरण के अंतर्गत खिताब भी मैच में भी वह प्रबल दावेदारी होगी।

ऑस्ट्रेलिया को हराकर खिताब को जीतना बहुत ही सुखद

ऑस्ट्रेलिया की टीम को भी काम अपना गलत होगा, क्योंकि उसने भी 19 नवंबर को ऑस्ट्रेलिया सीनियर टीम ने रोहित शर्मा की अगवाई वाली टीम को वनडे विश्व कप के फाइनल में हराकर भारतीयों का दिल तोड़ कर रख दिया था। लेकिन सहारन वाली टीम के लिए ऑस्ट्रेलिया को हराकर खिताब को जीतना बहुत ही सुखद होगा। ऑस्ट्रेलिया ने सेमीफाइनल में पाकिस्तान के करीबी मुकाबले में हराकर फाइनल में जगह बना ली थी।

ऑस्ट्रेलिया को भी यहाँ पर आंकना होगा कम

भारत की टीम को यहां पर जीतने के लिए अच्छा क्षेत्ररक्षण भी करना होगा, तभी वह जीत सकती है। अगर अच्छा क्षेत्ररक्षण नहीं होता है तो जीती हुई मैच हुई हर सकती हैं। धीमी बल्लेबाजी से भी भारत की टीम को बचाना होगा। पिछले साल फाइनल में रोहित शर्मा की टीम ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ धीमी बल्लेबाजी की थी, जिसमें वह बड़ा स्कोर नहीं बन पाई थी। भारत की टीम को किसी भी क्षेत्र में जैसे की बल्लेबाजी गेंदबाजी और क्षेत्ररक्षण से बेहतर प्रदर्शन करना होगा।

दोनों टीमों की संभावित प्लेइंग-11

ऑस्ट्रेलिया : ह्यू वेबगेन (कप्तान), हैरी डिक्सन, सैम कोनस्टास, हरजस सिंह, रेयान हिक्स (विकेटकीपर), ओलिवर पीक, टॉम कैंपबेल, राफेल मैकमिलन, टॉम स्ट्रेकर, महली बियर्डमैन, कैलम विडलर।

भारत : आदर्श सिंह, अर्शिन कुलकर्णी, मुशीर खान, उदय सहारन (कप्तान), प्रियांशु मोलिया, सचिन धस, अरावेली अवनीश (विकेटकीपर), मुरुगन अभिषेक, नमन तिवारी, राज लिम्बानी, सौम्य पांडे।

टीमें :

भारत : उदय सहारन (कप्तान), अर्शिन कुलकर्णी, आदर्श सिंह, रुद्र मयूर पटेल, सचिन धास, प्रियांशु मोलिया, मुशीर खान, अरावली अवनीश राव, सौम्य पांडे, मुरुगन अभिषेक, इनेश महाजन, धनुष गौड़ा, आराध्या शुक्ला, राज लिंबानी, नमन तिवारी।

ऑस्ट्रेलिया : ह्यू वेबगेन (कप्तान), लाचलान ऐटकेन, चार्ली एंडरसन, हरकीरत बाजवा, महली बियर्डमैन, टॉम कैंपबेल, हैरी डिक्सन, रेयान हिक्स, सैम कोनस्टास, राफेल मैकमिलन, ऐडन ओकोनोर, हरजस सिंह, टॉम स्ट्रेकर, कैलम विडलर और ओली पीक।

Back to top button