खेल

Hockey : भारतीय विश्व विजेता टीम को किया गया सम्मानित

जीत के 49 वर्ष पूरे होने पर अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष इकबाल सिंह ने लालपुर और विदेश राज्य मंत्री मीनाक्षी लेखी की उपस्थिति मैं उनकी और से विश्व विजेता टीम का शुक्रवार के दिन अनोखा सम्मान किया गया है।

नई दिल्ली (भारत). भारती हॉकी टीम ने विश्व चैंपियनशिप बनने की रांह में 50वें वर्ष में पहुंच गई है। 15 मार्च 1975 को अजीत पाल सिंह की कप्तानी में भारत ने पाकिस्तान को 2-1 पराजित कर एक बार मात्र आर्थर वाकर ट्रॉफी जीती थी। जीत के 49 वर्ष पूरे होने पर अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष इकबाल सिंह ने लालपुर और विदेश राज्य मंत्री मीनाक्षी लेखी की उपस्थिति मैं उनकी और से विश्व विजेता टीम का शुक्रवार के दिन अनोखा सम्मान किया गया है।

भारतीय विश्व विजेता टीम को किया गया सम्मानित

भारतीय टीम ने फाइनल से पहले मंदिर मस्जिद गुरुद्वारा और चर्च में जाकर आशीर्वाद प्राप्त किया था। जब टीम को शुक्रवार के दिन सम्मानित किया गया तो हिंदू, सिख, ईसाई, मुस्लिम और बौद्ध धर्म के श्रद्धालुओं ने उन्हें आशीर्वाद प्रदान किया। इस सम्मान समारोह में अशोक दीवान, असलम शेर खान, अजीत पाल सिंह, ओंकार सिंह, विजय फिलिप्स, अशोक कुमार, एचजीएस चिमनी, बीपी गोविंदा, हरचरण सिंह शामिल हुए।

गोलकीपर अशोक दीवान की महत्वपूर्ण भूमिका

अशोक कुमार के अनुसार लेकिन सुरजीत सिंह ने दूसरे हाफ में बराबरी दिला दी, उनके ही गोल की वजह से टीम को 2-1 बढ़ोतरी मिली। इस बढ़त के बाद मैच के अंतिम 16 मिनट में गोल नहीं खाना सबसे बड़ी चुनौती थी। पूरी टीम ने यह नहीं किया कि बस अब गोल नहीं होने देना है। गोलकीपर अशोक दीवान की महत्वपूर्ण भूमिका इसमें आई थी

Back to top button