BREAKINGउत्तर प्रदेश

रामलला दर्शन : श्रद्धालुओं का दूसरे दिन सैलाब, मुख्य द्वार के अलावा अन्य रस्ते बंद, ऐसे हो रहें दर्शन

आज बुधवार को भारी संख्या में श्रद्धालु दर्शन के लिए पहुंचे, 200-200 ग्रुप के साथ दर्शन करने के लिए भक्त जनों को भेजा जा रहा

Ramlala Darshan: Flood of devotees on the second day, roads other than the main gate are closed, darshan is happening like this

अयोध्या (उत्तर प्रदेश). प्राण प्रतिष्ठा समारोह होने के बाद मंगलवार के दिन रामलाल के दर्शन के लिए श्रद्धालुओं का जन सैलाब देखने को मिला। भारी भीड़ के चलते की गई व्यवस्था टूटती हुई दिखाई दी। ऐसा देख मुख्यमंत्री योगी ने खुद व्यवस्था को संभाला। आज बुधवार को भारी संख्या में श्रद्धालु दर्शन के लिए पहुंचे हैं। आज प्रशासन ने पूरी व्यवस्था को मजबूती से किया है। 200-200 ग्रुप के साथ दर्शन करने के लिए भक्त जनों को भेजा जा रहा है।

 मुख्य द्वार के अलावा अन्य बंद

सुरक्षा की दृष्टि से जन्म भूमि पथ पर जाने वाले सभी मार्गों को पूर्ण रूप से बंद कर दिया गया है। बैरियर लगाकर सुरक्षा बलों को तैनात कर दिया गया है। रामलला के दर्शन के लिए भक्ति लोक सिर्फ मुख्य द्वार से ही जा सकते हैं। सुरक्षा बलों को तैनात कर यह निर्देश दिया गया है कि मुख्य मार्ग के अलावा अन्य मार्ग से किसी का भी प्रवेश करने नहीं दिया जाएगा। अमावां मंदिर हनुमानगढ़ से आने वाले रास्ते को पूर्ण रुप से बैरिकेडिंग किया गया है।

व्यवस्था नए सिरे से आज

मंगलवार को 5 लाख भक्तों ने राम दर्शन किया था। दर्शन करने के लिए भक्त जनों की आते हुए जन सैलाब को देखते हुए यह व्यवस्था नए सिरे से आज बनाई गई है। जन्मभूमि की ओर जाने वाले रामकोट के सभी रास्तों को बैरियर लगाकर बंद कर दिया गया है। स्थानीय लोगों को भी अब प्रवेश करने नहीं दिया जा रहा है। आज रामलला के दर्शन के लिए श्रद्धालुओं की लंबी लाइन बाहर क्षीरेश्वर महादेव गेट नंबर 3 तक लगी है।

सुबह 6 बजे से रात 10 बजे तक दर्शन

अयोध्या में रामलला दर्शन के लिए समय निर्धारित कर दिया गया है। अब भक्तजन सुबह 6:00 बजे से लेकर रात 10:00 बजे तक रामलला के दर्शन कर पाएंगे। डीएम नीतीश कुमार ने यह जानकारी दी की दर्शन के बीच में आरती और भोग के लिए थोड़ी देर के लिए दर्शन रोंके जाएंगे।

Ramlala Darshan: Flood of devotees on the second day, roads other than the main gate are closed, darshan is happening like this
Back to top button