BREAKINGउत्तर प्रदेश

12 देशों के 32 बड़े डॉक्टर झांसी में Free करेंगे 120 बच्चों के महंगे ऑपरेशन

उत्तर प्रदेश के झाँसी, ललितपुर, औरिया, उन्नाव, फतेहपुर, इटावा, रायबरेली और कन्नौज जैसे जिलों के मरीजों ने मुफ्त कटे होंठ और तालु शिविर के लिए पंजीकरण कराया है। इसके अतिरिक्त, श्योपुर, भिंड, सागर, पन्ना, छतरपुर, इटावा, सतना, मुरैना और शिवपुरी सहित पड़ोसी मध्य प्रदेश के जिलों के मरीजों को भी शिविर में सर्जरी प्राप्त करने के लिए पंजीकृत किया गया है।

झांसी (उत्तर प्रदेश)। उत्तर प्रदेश के बुंदेलखंड क्षेत्र में आने वाले झाँसी – ललितपुर से सांसद अनुराग शर्मा की पहल एक नया रंग लाई है।  जिसमें विदेश के 12 बड़े डॉक्टर झांसी में  महारानी लक्ष्मीबाई मेडिकल कॉलेज कैंपस के अंदर जिले के 120 बच्चों का इलाज फ्री में करेंगे। इस ऑपरेशन में सहयोगी संगठन झाँसी स्माइल हेल्थ फाउंडेशन और वीरांगना फाउंडेशन ने काफी अहम रोल निभाया है। उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के बुंदेलखंड क्षेत्र में कटे होंठ और कटे तालु से पीड़ित बड़ी संख्या में बच्चों के नि:शुल्क ऑपरेशन कराने जा रहे हैं। जिसे बड़े स्तर पर अभियान चलाकर शुरू किया गया है।

ऑपरेशन का आयोजन झाँसी में 5 फरवरी से 13 फरवरी तक

इस ऑपरेशन का आयोजन झाँसी में 5 फरवरी से 13 फरवरी तक किया जाएगा। इस बार ऐसे बच्चों को चुना गया है जो शारीरिक रूप से दिव्याङ्ग हैं। जिसमें कटे हुए होंठ और तालु जैसी विकृति वाले 200 से अधिक बच्चों को व्यापक चिकित्सा मूल्यांकन प्रदान करने के प्रयासों को संयोजित करेंगे, उनमें से 120 से अधिक बच्चों को जीवन बदलने वाली सर्जरी मिलेगी। इसमें सांसद अनुराग शर्मा के प्रयासों से बच्चों के चेहरे पर मुस्कान वापस आएगी।

120 Foreign Doctors operate in jhansi children cutted lips 

इस नि:शुल्क ऑपरेशन में ऑस्ट्रेलिया, रूस, अमेरिका, ब्रिटेन, फिलीपींस, स्वीडन, ब्राजील, घाना, मलावी, जापान, कनाडा और भारत के चिकित्सा और गैर-चिकित्सा स्वयंसेवकों की एक बहु-विषयक टीम की मेजबानी करेगी। जो हमारे रोगियों को सर्जरी और व्यापक देखभाल प्रदान करेंगे। सांसद शर्मा अन्य सभी अप्रत्यक्ष लागतों जैसे रोगी और परिवार के परिवहन, रोगी और परिवार के आवास और भोजन का भी खर्च उठायेंगे।

श्योपुर, भिंड, सागर, पन्ना, छतरपुर, इटावा, सतना, मुरैना और शिवपुरी से भी आएंगे बच्चे 

अब तक उत्तर प्रदेश के झाँसी, ललितपुर, औरिया, उन्नाव, फतेहपुर, इटावा, रायबरेली और कन्नौज जैसे जिलों के मरीजों ने मुफ्त कटे होंठ और तालु शिविर के लिए पंजीकरण कराया है। इसके अतिरिक्त, श्योपुर, भिंड, सागर, पन्ना, छतरपुर, इटावा, सतना, मुरैना और शिवपुरी सहित पड़ोसी मध्य प्रदेश के जिलों के मरीजों को भी शिविर में सर्जरी प्राप्त करने के लिए पंजीकृत किया गया है। सभी मरीज 4 फरवरी 2024 को झाँसी आ जायेंगे और उनका सफल ऑपरेशन होगा।

 

Back to top button