Top Newsदेश

बजट 2024 PM बोले- देश के भविष्य को निर्माण का बजट, जानिए किसने-क्या दी प्रतिक्रियाएं?

विभिन्न नेताओं और राजनीतिक पार्टियों ने अपनी-अपनी प्रतिक्रियाएं दी हैं।

Budget 2024: PM said – Budget to build the future of the country, know who gave what reactions?

नई दिल्ली (भारत). बजट 2024 का पेश हो चुका है, जिसमें विभिन्न नेताओं और राजनीतिक पार्टियों ने अपनी-अपनी प्रतिक्रियाएं दी है। केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने सोशल मीडिया से अपनी बात को साझा करते हुए, उन्होंने कहा कि आज का दिन बहुत ही बड़ा और अहम है ।

अंतरिम बजट पर मोदी की प्रतिक्रिया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अंतरिम बजट पर प्रतिक्रिया दीव उन्होंने कहा कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा अंतरिम बजट पेश किया गया। यह बजट समावेशी और नवोन्मेषी होने के साथ-साथ भविष्य के निर्माण का बजट सिद्ध हुआ है। यह विकसित भारत के चार स्तंभों युवा, गरीब, महिला और किसानों को मजबूती प्रदान करेगा। बजट पेश होने के बाद प्रधानमंत्री ने एक वीडियो में संदेश देकर शेयर किया।

देश के भविष्य को निर्माण करने वाला बजट

यह बजट 2047 के विकसित भारत की नींव को मजबूती प्रदान करने की गारंटी है। यह बजट समावेशी और नवोन्मेषी बजट सिद्ध हुआ है। यह बजट निरंतरता का विश्वास है। यह देश के भविष्य को निर्माण करने वाला बजट है। पीएम मोदी ने वित्त मंत्री और उनकी पूरी टीम को हार्दिक बधाइयां दी।

पूंजीगत हुए व्यय को ऐतिहासिक ऊंचाई प्रदान

मोदी ने कहा कि इस बजट में युवा भारत की आकांक्षाओं का प्रतिबिंब बने हैं। इस बजट में दो बहुत ही महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं। नवाचार पर एक लाख करोड़ का फंड बनाने की घोषणा कर दी गई है। बजट में स्टार्टअप को मिलने वाले टैक्स छूट के विस्तार का भी ऐलान प्रदान किया गया है। राजकोषीय घाटे को नियंत्रण में रखने के लिए पूंजीगत हुए व्यय को 11 लाख, 11 हजार, 111 करोड़ रुपए की ऐतिहासिक ऊंचाई प्रदान की गई है।

महिलाओं को लखपति नीति बनाने का भी लक्ष्य

प्रधानमंत्री ने यह बताया कि गरीबों के लिए हमने गांव और शहरों में चार करोड़ से अधिक आवास बनवा दिए हैं। अब हमने 2 करोड़ और नए घर बनवाने का लक्ष्य शामिल किया है। हमने दो करोड़ महिलाओं को लखपति नीति बनाने का भी लक्ष्य रखा था। उस लक्ष्य को हमने बढ़ाकर 3 करोड़ कर दिया है।

किसानों की आय बढ़ेगी

उन्होंने बताया कि इस बजट में किसानों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण और बड़े निर्णय किए गए हैं। नैनो डैप का उपयोग, पशुओं के लिए नई योजनाएं, पीएम मत्स्य संपदा योजना के विस्तार और आत्मनिर्भर ऑयल सीड अभियान से किसानों की आय बढ़ेगी और खर्चा कम हो जाएगा।

केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह

केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह ने भी कहा कि बजट गतिशील और देश के विकास को आगे बढ़ने वाला होगा। हमेशा की तरह इस बार भी विपक्ष ने बचट को लेकर सरकार पर जमकर निशाना साधा। एमडीएमके सांसद वाइको ने भी इस बजट में अपनी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि भारत के लोगों को बेवकूफ बनाने की कोशिश करेंगे।

केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी

केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी ने भी अंतरिम बजट पर अपनी टिप्पणी की और कहा कि यह अंतरिम बजट है। पिछले 10 सालों में हम कदम-कदम आगे बढ़ते आ रहे हैं। चाहे वह युवा हो या फिर महिलाएं हों या फिर किसान हो हर एक के लिए हमने काम सफलतापूर्वक किया है। वह इस बजट में दिखाई दे रहा है।

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने इस बजट को लेकर कहा कि विकसित भारत के लिए स्थापित किए गए सभी चार स्तंभों किसान, युवा, गरीब और महिलाएं शामिल थे। पीएम आवास योजना के अंतर्गत 2 करोड़ और मकान स्वीकृत करना तथा लखपति दीदी स्वयं सहायता समूह के लिए 3 करोड़ की संख्या तय करना ऐसी योजनाएं प्रदर्शित करती हैं कि एक तरफ जहां कल्याणकारी योजनाएं हैं, वहीं दूसरी तरफ बुनियादी ढांचे के विकास जैसी वे योजनाएं भी शामिल की गई हैं।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह 

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की ओर से पेश किया जाने वाला अंतरिम बजट आत्मविश्वास से भरा हुआ, मजबूत और आत्मनिर्भर विकसित भारत की दृष्टि को रेखांकित करते हुए दिखाई देता है। यह बजट यह दिखाता है कि भारतीय अर्थव्यवस्था का आकार 2027 तक बढ़कर 5000 अरब डॉलर से भी अधिक बन जाएगा। एक पोस्ट पर उन्होंने यह कहा कि इस बजट में समाज के हर वर्ग के लिए कुछ ना कुछ जरूर काम हासिल है।

विपक्ष ने साधा निशान कहा- कहने और करने में बहुत बड़ा फर्क

शिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने अंतरिम बजट पर यह कहा कि कहने और करने में जमीन आसमान का फर्क है। हम 10 सालों से देख रहे हैं कि गरीबों और महिला तथा युवा के लिए कुछ भी नहीं हुआ है। इस बजट में आम जनता की उम्मीदों पर ठंडे मौसम में ठंडा पानी डालने के जैसा काम किया जा रहा है।

शिरोमणी अकाली दल सांसद हरसिमरत कौर बादल

शिरोमणी अकाली दल सांसद हरसिमरत कौर बादल ने कहा मुझे तो इस बजट में अहंकार जैसा नजर आ रहा था, क्योंकि ऐसा मालूम पड़ा जुलाई में बजट पेश करेंग। आप किसी भी चुनाव को हल्के में नहीं ले सकते आज आपके पास मौका था कि पिछले 10 सालों के लिए जितने भी किए गए वादे थे, उनको आप पूरा कर जनता में विश्वास जागृत कर सकते हो। जनता को सपना दिखाने से अच्छा है कि काम को पूरा करो।

शिवसेना के प्रमुख उद्धव ठाकरे

शिवसेना के प्रमुख उद्धव ठाकरे ने बृहस्पतिवार को केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए यह कहा कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने नरेंद्र मोदी सरकार के आखिरी बजट को पेश कर दिया है। उन्होंने मुंबई से सटे रॉयल जिले में पार्टी कार्यकर्ताओं को एक संबोधन में बताते हुए यह कहा कि सीतारमण का यह कहना है कि बजट चार जातियों गरीबों, महिलाओं,युवाओ और किसानों पर केंद्रित है। तब ठाकरे ने यह कहा कि सरकार को आखिरकार एहसास हुआ कि देश में चार तरह के लोग भी रहते हैं।

Budget 2024 presented: Youth, women, farmers got these schemes, know what major changes were made
Back to top button