BREAKINGTop Newsदेश

किसान आंदोलन : केंद्र ने गन्ने का मूल्य किया 340 रुपए प्रति कुंतल, अनुराग ठाकुर बोल- प्रदर्शनकारी किसान हमारे अन्नदाता

उत्तर प्रदेश के अलावा महाराष्ट्र और कर्नाटक के किसानों का सबसे ज्यादा फायदा होने वाला है। यहां पर गन्ने का सर्वाधिक उत्पादन होता है।

नई दिल्ली (भारत). केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने प्रेस कांफ्रेंस के दौरान यह बताया कि सरकार ने किसानों के आय दोगुनी करने के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। सरकार ने किसानों के हित को ध्यान में रखते हुए आर्थिक मामलों की कैबिनेट समिति ने गन्ने को 10.25% की मूल्य रिकवरी दर के साथ ₹340 रुपए प्रति कुंतल की मंजूरी दे दी है।

केंद्र ने गन्ने का मूल्य किया 340 रुपए प्रति कुंतल

दिल्ली की सीमा पर चल रहे किसान आंदोलन के बीच सरकार ने किसानों को बड़ा तोहफा दे दिया है। केंद्र ने गन्ने का न्यूनतम मूल्य ₹25 बढ़कर प्रति कुंतल 340 रुपए कर दिया है। सूंचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में मोदी कैबिनेट के निर्णय के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार प्रदर्शन कर रहे किसानों से बातचीत करने के लिए तैयार हो गई है। किसान हमारे भाई और अन्नदाता है। उन्होंने बताया कि मोदी सरकार ने किसानों के आए को बढ़ाने के लिए बेहतर कदम उठाने के लिए कार्य योजना तैयार कर रही है और कई कदम उठाए भी हैं।

गन्ने के मूल्य में मोदी सरकार की ओर से की गई सबसे अधिक बढ़ोतरी

अनुराग ठाकुर ने बताया कि पीएम किसान योजना के अंतर्गत सरकार ने लगभग 12 करोड़ किसानों को 2.81 करोड रुपए का भुगतान कर दिया है। यूपीए सरकार के कार्यकाल में किसानों के अनदेखी करने का भी उन्होंने आरोप लगाया। ठाकुर ने यह बताया कि कांग्रेस के समय में किसानों का ना तो सम्मान था और ना ही निधि थी। गन्ने के मूल्य में प्रति कुंतल के बढ़ोतरी मोदी सरकार की ओर से की गई सबसे अधिक बढ़ोतरी है। उत्तर प्रदेश के अलावा महाराष्ट्र और कर्नाटक के किसानों का सबसे ज्यादा फायदा होने वाला है। यहां पर गन्ने का सर्वाधिक उत्पादन होता है।

Back to top button