Top Newsविदेश

बगदाद : अमेरिका ने किया ड्रोन हमला, मलेशिया शीर्ष कमांडर सहित 3 की मौत

ड्रोन से हमला पूर्वी बगदाद के मश्तल इलाके में मुख्य मार्ग पर किया है। ड्रोन से जिस गाड़ी को निशाना बनाया गया, उसमें शक्तिशाली कताईब हिजबुल्ला के कमांडर और उसके दो सहयोगी बैठे थे।

इराक (बगदाद). बुधवार को अमेरिका ने ड्रोन से इराक पर हमला किया है। रिपोर्ट के अनुसार, इस हमले से ईरान समर्थित मलेशिया समूह कताईब हिजबुल्ला के शीर्ष कमांडर सहित 3 सदस्यों की मौत हो गई है। ड्रोन से हमला पूर्वी बगदाद के मश्तल इलाके में मुख्य मार्ग पर किया है। ड्रोन से जिस गाड़ी को निशाना बनाया गया, उसमें शक्तिशाली कताईब हिजबुल्ला के कमांडर और उसके दो सहयोगी बैठे थे। आपातकालीन सेवा मौके पर पहुंच नहीं पाई।, जब तक वहां पहुंची तब तक गाड़ी जलकर राख हो गई थी। उसके बाद लोगों की बहुत भीड़ वहां पर इकट्ठा हो गई थी।

कताईब हिजबुल्ला के रूप में  मृतक  की पहचान

अमेरिका के एक अधिकारी नहीं है बताया कि ड्रोन से हमला कताईब हिजबुल्ला के शीर्ष कमांडर पर निशाना बनाकर किया गया। मृतक की पहचान एक की विसाम मोहम्मद अबू वक्र अल-सादी के रूप में की गई है। यह सीरिया में कताईब हिजबुल्ला के ऑपरेशन का प्रभारी कमांडर था।

अमेरिका ने जॉर्डन में सैन्य हमले पर इस्लामी रेजिस्टेंस को जिम्मेदार बताया

पिछले हफ्ते में अमेरिका ने इराक और सीरिया में ईरान समर्थित आतंकी समूहों पर बमबारी की थी, जिसमें कई मलेशिया सदस्य मारे गए थे। इसी के चलते क्षेत्र में तनाव पैदा हो गया, जिससे अमेरिका ने एक बार फिर से ड्रोन हमला कर दिया है। अमेरिका ने जॉर्डन में सैन्य हमले पर इराक के इस्लामी रेजिस्टेंस को जिम्मेदार बताया है। अधिकारियों ने कहा कि मर गया मलेशिया कमांडर इस्लामी रेजिस्टेंस संगठन का सरगना था। इस्लामी रेजिस्टेंट ने इसराइल हमास युद्ध के बाद इराक में होने वाले अमेरिकी सैनिकों पर किए गए हमलों की जिम्मेदारी को स्वीकार किया था।

Back to top button